Google Kya Hai
Google Kya Hai

क्या आप जानते हैं, Google Kya Hai? और Google कैसे बना अगर नहीं तो यह पोस्ट आप के लिए ही हैं। जैसा कि हम सब जानते हैं कि Google एक सर्च इंजन है। लोग इसका प्रयोग हर प्रकार की जानकारी के लिए इस्तेमाल करते हैं।

Google Kya Hai |  गूगल क्या है?


इस समय इंटरनेट की दुनिया में पहला कदम रखते ही जो नाम सामने आता या सुनने को मिलता है। वह नाम Google है। इंटरनेट Use करने वाले सभी लोगो को इस नाम का अच्छे से खबर है।


इसका प्रयोग कई प्रकार से करते हैं। लेकिन बहुत काम लोगो को यह पता है की आखिर Google Kya Hai वास्तवकिता यह है कि Google एक Multi National Technology Company है। जो इंटरनेट सर्विस और प्रोडक्ट को लोगो को सेवा के लिए प्रदान करती है।


गूगल की सर्विसेज में जैसे Online, Advertising, Technlogy, Search, Cloud Computing, Software और हार्डवेयर आते हैं।


ज्यादातर लोग Google को एक सर्च के लिए उपयोग करते हैं। यानी किसी भी वर्ड को हम यहां टाइप करके उसकी जानकारी के बारे में जान सकते हैं।

यह भी पढ़ें,




Google की स्थापना कब हुयी?


गूगल की शुरुआत जनवरी 1996 में एक रिसर्च के दौरान Sergey Brin और Larry Page ने की थी। वह दोनों Standford University में पीएचडी के स्टूडेंट थे।


पहले उन लोगों ने जो सर्च इंजन बनाया था, उसका नाम रखा था Backrub! Backrub के बाद इस सर्च इंजन का नाम Googol रखा गया।

Googol का क्या अर्थ है?


Googol इस सर्च इंजन के पीछे एक कांसेप्ट था। Googol शब्द का अर्थ किसी दो वेबसाइट के बीच तुलना करना। इस शब्द के पीछे एक का मतलब होता है की एक Googol यानि १ के बाद १०० जीरो स्थापित होता है।


शुरुआत में Googol सर्च इंजन Standford University के वेबसाइट के लिए प्रयोग किया गया। और इस सच इंजन को केवल इस विश्वविद्यालय के काम के लिए ही चलाया गया।

Google का अविष्कार कब हुआ?


Google को आरम्भ में Andy दवारा फंडिंग दी गयी। Andy सोन माइक्रोसिस्टम के ऑनर ने उनकी मेहनत और लगन को देखकर $100000 का चेक Google Inc के नाम पर काट दिया।


जबकि उस समय गूगल कही भी इस नाम से बाज़ार में था ही नहीं। और किसी प्रकार से गूगल के नाम से लेंन  देंन भी नहीं हो रहा था।


फाइनली Sergey Brin और Larry Page ने Google Inc नाम रख दिया और Andy की उस फंडिंग का भुगतान Google के नाम पर कर लिया।

1997 


1997 में Page और Brin ने Google नाम का डोमेन रजिस्टर्ड किया।

1998 


1998 तक Google पर ढाई करोड़ का डेटाबेस इकट्ठा कर लिया।

1999 

वर्ष १९९९ के शुरुआत में Sergey Brin और Larry Page ने मिलकर यह फैसला लिया की वह Excite नाम की कंपनी को Google को बेच देंगे।


उन्होंने इस कंपनी के CEO George Bell से मुलाकात की एक मिलियन डॉलर में Google को बेच देने का ऑफर दिया। हालाँकि जॉर्ज ने इस ऑफर को ठुकरा दिया था।


लेकिन Excite कंपनी के मुख्या निवेशकों में से एक विनोद घोसला नाम के व्यक्ति ने एक मिलियन डॉलर से लेकर ७५ मिलियन डॉलर तक ले आये थे। लेकिन फिर भी जॉर्ज ने इससे थुरा दिया था।

Google की विशेष जानकारी | Google IPO


चलिए जानते हैं गूगल की कुछ विशेष जानकारी के बारे में, Google IPO (Initial Public Offering) वर्ष 2004 में किया गया था। इस प्रोग्राम में Sergey Brin, Aric और Larry Page ने यह तय किया यह तीनो साथ मिलकर बीस वर्षो तक एक साथ काम करेंगे। 


सो इसी लिए यह तीनो लोग मिलकर 2024 तक गूगल कंपनी को चलाएंगे। IPO ( Initial Public Offering) प्रोग्राम में गूगल की तरफ से 19605052 (2018) ऑफिस शेयर किया गया। और प्रति शेयर की कीमत 85 डॉलर रखा गया। 


यह शेयर Online एक सर्वर की सहयता से बेच गया। इस शेयर की बिकने से Google Company की 23 बिलियन से भी अधिक पूजी का लाभ हुआ। इस वक्त गूगल के पास 271 million से भी ज्यादा Share हैं। 

Google Company का विकास के बारे में,

  1. वर्ष 1999 मार्च में Google ने अपना पहला ऑफिस कैलिफोर्निया के पालो आल्टो में बनाया। इस समय यहाँ पर सिल्कन वैली के अंतरगत् चालू करने वाली बहुत सी कंपनी इसी समय काम कर रही थी। 
  2. सन 2000 में Google ने बेचने और एडवरटाइजिंग का काम शुरू किया। जिसमे Keyword का प्रयोग किया जाता था। Keyword एडवरटाइजिंग सेल्लिंग का काम सबसे पहले goto.com के लिए किया गया था। 
  3. साल 2001 में Google Page मेकनिज़्म के लिए Google को पेटेंट प्राप्त हो गया। बाद में इस पेटेंट को स्टैंडफोर्ड विश्वविद्यालय को दिया गया। 
  4. वर्ष 2002 में इस कंपनी ने अपना ऑफ सेल्ल काम्प्लेक्स 1600 Mp थिएटर माउंटेन व्यू कैलिफोर्निया में स्थापित किया। इस जगह को अब Google Plex के नाम से जाना जाता है।
  5. 2005 के थर्ड क्वार्टर लार्क में Google 700 % की बढ़त पेयी गयी। 
    

Google Search की संख्या 


साल 2009 में देखा गया की Google Search Engine में प्रतिदिन 1 Milloin से भी अधिक राजनितिक रिसर्च किये गए। और फिर उसके बाद। 

मई 2011 में जो अकड़ा मिला उससे पता चला की हर महीने गूगल में सर्च करने वालो की संख्या पहली बार एक मिलियन से ऊपर चली गयी। 

Google Search से की गयी कमाई 


और फिर यह आकड़ा साल 2012 में Google ने 50 बिलियन सालाना कमाई की ऐसा पहली बार देखा गया की एक साल में Google पहली बार इतने पैसे कमा सके। 


साल 2012 के अंत में यह देखा गया की Google साल के हर तीसरे महीने अपनी कमाई में 8% की वृद्धि और कुल मिलकर कमोबेश वार्षिक ३६% का लाभ पाने लगी। 


और साल 2013 में Google ने कैलिको नाम की एक कंपनी का गठन किया। जिसे Apple Inc के साथ रखा गया और इसी साल 27 सितम्बर को गूगल ने अपनी कंपनी का 15 वर्षीय जश्न मनाया। 

Google का Doodle 

और इसी तरह सन 2016 में अपनी कंपनी का 18 वा जश्न मानते हुए Google ने अपने web ब्राउज़र पर Doodle नाम का एक एनीमेशन जारी किया। जिसे पूरी दुनिया में गूगल वेब ब्राउज़र पर देखा गया। 


गूगल इस समय कई कम्पनिया जैसे, facebook, Intel, Microsoft जैसी ऑर्गनिज़शन के साथ भी मिलकर काम करना शरू कर दिया। 


और इसी वर्ष अक्टूबर तक गूगल ने दुनिया भर के चालिश देशो में लगभग सत्तर ऑफिस बना रहे थे। जहा पर हज़ारो लोग काम करते हैं।


गूगल इस समय दुनिया के सबसे ज्यादा विजिट करने वाली एक वेबसाइट बन चुकी है। Google Services के द्वारा और भी बहुत सारी सेवाएं हैं। जैसे उनमे से कुछ का नाम इस प्रकार है,

Google Data Center कहा है?

Google Data Center 2016 तक गूगल ने पुरे अमेरिका में कुल 9 डाटा सेण्टर अपने नाम कर चुके थे। जिसे अभी भी चला रहा है। इसके अलावा Asia में 2 Data Center और यूरोप में 4 Data Center बना रखा है। 


इसके अलावा दिसंबर 2013 में गूगल ने यह घोसना की कि Hongkong में भी कुछ इसी प्रकार का डाटा सेण्टर का निर्माण किया जायेगा। 


 अक्टूबर 2013 में अमेरिका के Security Agency ने Google Data सेण्टर के बीच कम्युनिकेशन का मस्कुलर नमक एक प्रयोग के तहत अवरोध किया। किउकी गूगल अपने नेटवर्क के अंदर डाटा एन्क्रिप्ट नहीं करता था। 


इसके बाद साल 2013 से गूगल अपने डाटा सेंटर में भेजा जारहे डाटा को एन्क्रिप्ट करना चालू कर दिया था गूगल का सबसे आसानी से चलने वाला डाटा सेण्टर 35 डिग्री तापमान पर चलता है। 


इसका डाटा सर्वर इतना गर्म होता है कि कोई व्यक्ति यहाँ कुछ ही टाइम से ज्यादा खड़ा नहीं होसकता। कुकी गूगल का सर्वर बहुत ही ज्यादा गर्म हो जाता है। 

Google Data Server कितने हैं?


गूगल डाटा सर्वर साल 2011 तक कुल सर्वर की संख्या डाटा सेण्टर को मिलकर टोटल 900 हज़ार सर्वर मौजूद थे। यह आंकड़ा ऊर्जा के इस्तेमाल के आधार पर था। 


हालाँकि गूगल ने कभी इस बात का ज़िकर नहीं किया की कि उसके पास कुल कितने सर्वर हैं। दिसंबर में गूगल इस बात का एलान किया की 2017 से google अपना डाटा सेण्टर ऑफिस के लिए १००% रेनेअबले एनर्जी यानि कभी ख़त्म न होने वाली ऊर्जा का प्रयोग करेगा। यदि ऐसा होता है तो रिन्यूएबल ऊर्जा वाली दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बन जायेगा। 

Google को चलने के लिए बिजली की आवश्यकता?


गूगल को चलने के लिए कुल 2600 मेगा वाट बिजली की आवश्यकता होगी। जिसकी बिजली पूरा करने के लिए वायु ऊर्जा से बानी बिजली से पूरा की जाएगी। 

Google Search Engine 

आम लोगो में गूगल की अन्य सुविधावो का चलन कुछ कम भी हो सकता है। लेकिन Google Search Engine का प्रयोग हर Internet प्रयोग करने वाले व्यक्ति के साथ किया जाता है। 


इस बात अंदाज़ा इसी से लगाया जा सकता है कि साल 2009 में अमेरिका के मार्किट में Google का प्रयोग अन्य सर्च इंजन की तुलना में सबसे अधिक हो रहा था। 


America की मार्किट में गूगल का शेयर 65.6% का था। साल 2003 में New York Times ने Google Indexing की प्रक्रिया के लिए शिकायत की। उनका कहना था की Google अपने वेबसाइट के लिए इनफार्मेशन कैच करना कॉपीराइट की प्रक्रिया के खिलाफ है। इस केस में United State के डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ने गूगल आधार पर गूगल के पछ में फैसला किया। 

Google Hummingbird क्या है। 


गूगल हुंमिंगबर्ड साल 2013 में गूगल सर्च इंजन में अपडेट की खबर मिली। इसके आने से User को यह आसानी हो गयी की अब यह आम भाषा में भी कीवर्ड का ध्यान रखे बिना सर्च कर सकता है। 


अगस्त 2016 में Google ने इसके लिए दो बड़ी घोसना की। पहली घोसना यह थी की गूगल सर्च इंजन से मोबाइल फ्रेंडली टर्म को हटाना ताकि हिघ्लॉटेड पैसेज को मोबाइल पर आसानी से समजहा जा सके। 


और दूसरी यह की जनवरी 2017 में उन सभी मोबाइल पैसेज को हटाया जायेगा। मई 2017 से Google अपने सर्च इंजन में पर्सनल टैब जैसे चीज़ लेन वाला था। 

Google Consumer Services क्या हैं?


वेबसाइट पर आधारित सर्विस गूगल कई तरह की वेब आधारित सर्विस अपनी यूजर के लिए शरू की है। Email के लिए Gmail और टाइम मॅनॅग्मेंट के लिए गूगल कैलेंडर नेविगेशन के लिए मैप्स क्लाउड स्टोरेज के लिए Google Drive जैसा की ऊपर दिया गया है। 

Google Full Name | Google Full Form


Google: (Global Organization of Oriented Group Language of Earth)


यह शब्द गूगल के Founder द्वारा बनाया गया है। यह "Google" शब्द से लिया गया है, जिसका अर्थ है एक बड़ी संख्या। 

चलते चलते,

हम आशा करते हैं कि आप दोस्तों को Google Kya hai यह पोस्ट में जानकारी जरूर मिली होगी। हमने अपनी इस पोस्ट में Google का इतिहास से लेकर पूरी जनमकुंडली आप के सामने रख दी है। 

यदि आप को अभी Google क्या है के बारे में किसी प्रकार की जानकारी चाहिए तो आप घर बैठे हमसे कांटेक्ट करके पूछ सकते हैं। 

हम अपनी इस पोस्ट के दवारा आपके प्रश्नो का उत्तर दे कर अपडेट कर देंगे। यदि आप ने सुस्कृबे किया होगा तो आपको इसका नोटिफिकेशन मिल जायेगा। और आप सभी प्रकार की जानकारी को ले सकेंगे। जय हिन्द! 

Post a Comment

Please do not use abusive language in comment box.

Previous Post Next Post